banner
Jul 14, 2020
350 Views
1 0

मंगलवार को हनुमान जी की पूजा करने और हनुमान चालीसा पढ़ने से व्यक्ति खुद को इस तरह की बाधाओं से बचा सकता है.

Written by
banner

विषय :-मंगलवार बजरंग बली जी का दिन होता है , आज जरूर करे हनुमान जी के दर्शन

नॉट :-
कहते हैं कि हनुमान जी (Hanuman Ji) की कृपा जिस पर बरसरना शुरू होती है उसका कोई बाल भी बांका नहीं कर सकता है. दस दिशाओं और चारों युग में उनका प्रताप है. जो कोई भी व्यक्ति मंगलवार (Tuesday) को उनकी पूजा करता है वह हर संकट से दूर हो जाता है. अपने भय पर काबू पाने के लिए प्रतिदिन हनुमान चालीसा (Hanuman Chalisa) का पाठ करना चाहिए. हनुमान जी इस कलियुग में सबसे ज्यादा जाग्रत और साक्षात हैं. मान्यता है कि कलियुग में हनुमान जी की भक्ति ही लोगों को दुख और संकट से बचाने में सक्षम है. मंगलवार को हनुमान जी की पूजा करने और हनुमान चालीसा पढ़ने से व्यक्ति खुद को इस तरह की बाधाओं से बचा सकता है.

भूत पिशाच निकट नहिं आवै, महावीर जब नाम सुनावै. जहां महावीर हनुमान जी का नाम सुनाया जाता है, वहां भूत, पिशाच पास भी नहीं फटक सकते. जिसे किसी अनजान शक्ति या भूत पिशाच से डर लगता है वह हनुमान जी का नाम जपने से भय‍मुक्त हो जाते हैं. भूत-पिशाच जैसी ऊपरी बाधाओं से परेशान व्यक्ति को बजरंगबाण का पाठ करना चाहिए और मंगलवार और शनिवार को खासतौर पर पूजा करे

नासै रोग हरै सब पीरा, जपत निरंतर हनुमत बीरा- वीर हनुमानजी, आपका निरंतर जप करने से सब रोग चले जाते हैं और सब पीड़ा मिट जाती है. यदि आपको शरीर में पीड़ा है या आप किसी रोग से ग्रस्त हैं तो आप हनुमान बाहुक का पाठ करें. हनुमान बाहुक गोस्वामी तुलसीदास द्वारा रचित स्त्रोत है. जनश्रुति के अनुसार एकबार जब कलियुग के प्रकोप से उनकी भुजा में अत्यंत पीड़ा हुई तो उसके निवारण के लिए तुलसीदास जी ने इस स्त्रोत की रचना की.

घटना-दुर्घटना को राहु-केतु और शनि अंजाम देते हैं जैसे अचानक आग लग जाना, आपकी गाड़ी का एक्सिडेंट हो जाना या किसी मुसीबत का अचानक आ जाना. कहते हैं कि हनुमान जी सभी तरह की घटना और दुर्घटना से बचा लेते हैं. इसके लिए हर रोज हनुमान जी की पूजा जरूर करें.

जय बजरंग बली

Attachments area

banner

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *