Dec 2, 2021
307 Views
1 0

28/09/2020 को 524 कर्मचारी हटाए थे और अब कुल 23 कर्मचारी बचे हैं लेकिन निगम प्रशासन ईन कर्मचारियों को वापिस लेने के लिए तैयार नहीं है|

Written by
क्यों गुरुग्राम में नगर निगम कर्मचारियों को नौकरी से निकाला – जाने पूरी जानकारी #gurugram #nagarnigam
क्यों गुरुग्राम में नगर निगम कर्मचारियों को नौकरी से निकाला – जाने पूरी जानकारी #gurugram #nagarnigam
02/12/2021 को 430 दिन से नगर निगम गुड़गांव प्रशासन द्वारा गलत तरीके से हटाए हुए छटनीग्रस्त कर्मचारियों का अपनी नोकरी बहाली को लेकर डीसी ऑफिस पर धरना जारी हे
छटनीग्रस्त कर्मचारियों ने बताया कि 12/11/2021 को कर्मचारियों ने निगम आयुक्त निवास स्थान पर धरना प्रदर्शन किया तो धरना प्रदर्शन मे ज्ञापन लेने आए सफाई अधिकारी विजेन्दर शर्मा ने एक हफ्ते का समय दिया था
लेकिन कोई समाधान नहीं हुआ फिर 22/11/2021 को फिर छटनीग्रस्त कर्मचारी नगर निगम आयुक्त मुकेश कुमार आहूजा से मिले तो उन्होंने फिर एक बार आसवासन दिया लेकिन अब तक कोई समाधान नहीं |
इसी तरह निगम प्रशासन के वादाखिलाफि के चलते 25/11/2021 को छटनीग्रस्त कर्मचारीयों ने एक दिवसीय भुख हड़ताल की लेकिन निगम प्रशासन कर्मचारियों की सुध लेने को तैयार नहीं है |
छटनीग्रस्त कर्मचारियों ने बताया कि श्रम आयुक्त के आदेश अनुसार निगम प्रशासन ने छटनी प्रकिया मे धारा 45G, व 45H की अवेहलना की जो कि पुराने कर्मचारियों को हटा के अधिकारियों ने अपने चहेतों की नोकरी बचाई | जिसमें श्रम आयुक्त के आदेश की अवेहलना की गयी |
28/09/2020 को 524 कर्मचारी हटाए थे और अब कुल 23 कर्मचारी बचे हैं लेकिन निगम प्रशासन ईन कर्मचारियों को वापिस लेने के लिए तैयार नहीं है| छटनीग्रस्त कर्मचारियों ने बताया हे निगम प्रशासन कितनी ही हठधर्मिता दिखा ले लेकिन हम भीं हार मानने वाले नहीं हैं आखिरी सास तक लड़ेंगे जब तक हमारी नोकरी बहाली के आदेश जारी नहीं हो जाते |

SHOW LESS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *